भारत का नेपोलियन किसे कहा जाता है और क्यों?

भारत का नेपोलियन कौन है?, Bharat Ka Napoleon Kaun Hai, Napoleon of India in Hindi

क्या आपकों पता है भारत का नेपोलियन किसे कहा जाता है और क्यों? शायद नहीं तो इस लेख में इसी विषय पर सम्पूर्ण जानकारी दी गई है.

नेपोलियन बोनापार्ट का नाम सबने सुना जरूर होगा जो फ्रान्स की क्रान्ति में सेनापति, सम्राट और यूरोप के अन्य कई क्षेत्रों का शासक भी था.

लेकिन भारत का नेपोलियन कौन है और उसे भारत का नेपोलियन क्यों कहा जाता है? भारत के विभिन्न क्षेत्रों एंव समय के मुताबिक अलग अलग व्यक्ति को नेपोलियन की उपाधि दी गई थी यानी उत्तर , पश्चिम, मध्यकालीन भारत का नेपोलियन अलग अलग हैं.

तो चलिए अब जानते हैं भारत के नेपोलियन किसे कहा जाता है और साथ ही उन सभी व्यक्तियों के बारे में भी जिन्हें दक्षिण भारत का नेपोलियन, पश्चिम भारत के नेपोलियन, मध्यकालीन भारत के नेपोलियन कहा जाता है.

भारत का नेपोलियन किसे कहा जाता है? (Bharat Ka Napoleon Kaun Hai)

भारत का नेपोलियन किसे कहा जाता है

समुद्रगुप्त को भारत का नेपोलियन कहा जाता है जो गुप्त राजवंश के चौथे राजा और चन्द्रगुप्त प्रथम के उत्तराधिकारी थे तथा पाटलिपुत्र उनके साम्राज्य की राजधानी थी.

उन्हें उनकी महान विजयों के लिए भारत के नेपोलियन का उपाधि प्राप्त हुई. वह एक भारत के महान शासन के अलावा एक अच्छे कवि और संगीतकार भी थे.

समुद्रगुप्त को सौ लड़ाइयों का नायक भी बताया गया है. उनके पास बेहतरीन सेना थी और साथ ही वे पूरी दुनिया जीतने की जिज्ञासु भी थे.

क्योंकि उन्होंने उत्तरी राज्यों पर विजय प्राप्त की इसलिए उन्हें उत्तर भारत का नेपोलियन कहा जाता है. इसके अलावा उन्होंने दक्षिणी राजाओं को अपनी संप्रभुता स्वीकार करने के लिए मजबूर किया.

समुद्रगुप्त एक ऐसे योद्धा थे जो अपनी जीवनकाल के दौरान वाटरलू जैसी किसी हार का सामना नहीं करना पड़ा और न ही किसी प्रकार का कैद का जीवन जीना पड़ा था.

उनमें एक बेहतरीन राजा बनने के लगभग सभी गुड़ थे जैसे कि लड़ाइयों में विजेता पाना, पूरी दुनिया जितने का जिज्ञासा, राज्य को एक साम्राज्य में बदलना, आदि इसलिए उन्हें भारत का नेपोलियन के रूप में जाना जाता हैं.

भारत का नेपोलियनसमुद्रगुप्त
शासनावधि ल. 335/350-375
जन्म 318 ईस्वी, इन्द्रप्रस्थ
मृत्यु पाटलिपुत्र
माता-पिताचन्द्रगुप्त प्रथम, कुमारदेवी
जीवनसंगी दत्तादेवी
बच्चेचन्द्रगुप्त विक्रमादित्य, रामगुप्त
परदादा या परनानाश्रीगुप्त
परपोते या परनातीस्कन्दगुप्त, पुरुगुप्त, प्रवरसेन दुसरा, दामोदरसेन
दादा या नानाघटोत्कच गुप्त
घराना गुप्त राजवंश
प्रसिद्धि उत्तर भारत के नेपोलियन (Napoleon of India)

भारत का नेपोलियन का नाम किसने दिया?

समुद्रगुप्त को उनकी जीत और सेनाओं को देखते हुए इतिहासकार वी ए स्मिथ ने उन्हें भारत का नेपोलियन कहा है. क्योंकि उन्होंने ज्यादातर विजय उत्तरी राज्यों पर प्राप्त की इसलिए उन्हें उत्तर भारत का नेपोलियन कहते हैं.

समुद्रगुप्त को भारत का नेपोलियन क्यों कहा जाता है?

समुद्रगुप्त को भारत का नेपोलियन इसलिए कहा जाता है क्योंकि उन्होंने उत्तरी राज्यों पर कई विजय प्राप्त की, वह एक ऐसे राजा थे जिनमें पूरी दुनिया जितने कि जिज्ञासा थी और साथ ही उन्हें अपनी जीवनकाल के दौरान न ही किसी प्रकार का कैद का जीवन जीना पड़ा था और न ही वाटरलू जैसी किसी हार का सामना करना पड़ा.

उन्होंने कभी कोई लड़ाई (युध्द) हारी नहीं थी और लगभग पूरे भारत को जीत लिया था, इसलिए इतिहासकार वी ए स्मिथ ने उन्हें भारत का नेपोलियन (Napoleon of India) कहा है.

समुद्रगुप्त ने उत्तर-भारत के नौ राज्यों को हराकर अपने राज्य में मिलाया और वही दक्षिण-भारत के कई राज्यों के साथ युद्ध किया लेकिन उसे नहीं मिलाया. इतिहासकारों ने उन्हें सौ लड़ाइयों का नायक भी बताया है.

दक्षिण भारत का नेपोलियन किसे कहा जाता है?

राजेंद्र प्रथम को दक्षिण भारत का नेपोलियन कहा जाता है, जिन्होंने अपनी महान विजयों द्वारा चोल साम्राज्य का विस्तार कर उसे दक्षिण भारत का सर्व शक्तिशाली साम्राज्य बनाया.

पश्चिम भारत के नेपोलियन किसे कहा जाता है?

गंग्या देव को पश्चिम भारत के नेपोलियन कहा जाता है जो मध्य भारत में त्रिपुरी के कलचुरी वंश के शासक थे. 1030 के दशक में, उन्होंने अपने आसपास के कई राज्यों पर चढ़ाई की और खुद को एक संप्रभु शासक के रूप में स्थापित किया.

मध्यकालीन भारत का नेपोलियन किसे कहा जाता है?

हेमू को मध्यकालीन भारत का नेपोलियन कहा जाता है, जो शेरशाह सूरी का योग्य दीवान, कोषाध्यक्ष और सेनानायक था. हेमू ने कई युद्ध को जीता और साथ ही शेरशाह की सफलता का मुख्य कारण भी इन्हीं को जाता है.

भारत का छोटा नेपोलियन किसे कहा जाता है?

जनरल जोरावर सिंह को भारत का छोटा नेपोलियन कहा जाता है. उन्होने लद्दाख, तिब्बत, बल्तिस्तान, स्कर्दू आदि क्षेत्रों को जीता और भारत के महान योद्धा के रूप में स्थापित किया.

निष्कर्ष,

जैसे कि आपने इस लेख में जाना,

भारत का नेपोलियन ‘समुद्रगुप्त’ को कहा जाता है. वह भारत के महानतम राजाओं में से एक थे जिन्होंने कभी कोई युद्ध नहीं हरा और उत्तरी राज्यों पर कई विजय प्राप्त की.

अब हम उम्मीद करते हैं आपकों भारत का नेपोलियन किसे कहा जाता है (Bharat Ka Napoleon Kise Kaha Jata Hai) के बारे में जानकारी मिल गई होगी.

यदि इस लेख को पढ़ कर आपकों भारत के नेपोलियन के बारे में समझ में आ गया है तो कृपया इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करे.

इसे भी पढ़ें :

Written by Hindikul

आपका स्वागत है हिंदीकुल पर! चलिए अब हमारे साथ जुड़कर तकनीकी दुनिया की यात्रा पर निकलें और नए और रोचक तत्वों का अनुभव करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *