ब्लॉगर क्या है?

क्या आप जानते हैं ब्लॉगर क्या है (Blogger kya hai), यदि आप blogger क्या हैं, इसका मतलब और अर्थ, इतिहास, फायदे और नुकसान आदि चीजों के बारे में नहीं जानते हैं तो इस लेख को पूरा पढ़े.

यहां आपकों ब्लॉगर (What is Blogger in Hindi) से संबंधित पूरी जानकारी दिया गया है. तो चलिए बिना किसी देरी के जानतेे ब्लॉगर क्या है और इसके सभी features और जरूरी जानकारियों के बारे में.

ब्लॉगर क्या है?

ब्लॉगर क्या है

ब्लॉगर (Blogger) एक गूगल की ब्लॉग पब्लिशिंग और होस्टिंग सर्विस है जो ब्लॉगर्स को नए ब्लॉग बनाने में शीघ्र ही मदद करती है. इसका पूर्व नाम ब्लॉगस्पॉट (Blogspot) है जो एक अमेरीकन कंपनी है. ब्लॉगर की मदद से आप निशुल्क में लाइफ टाइम के लिए डोमेन नेम और होस्टिंग ले सकते हैं और जब तक चाहें तब तक आप ऑनलाइन ब्लॉगिंग कर सकते हैं.

ब्लॉगर को Pyra Labs द्वारा विकसित किया गया था, जिसे 2003 में गूगल ने ख़रीद लिया था. सभी blogs को गूगल द्वारा host किया जाता है जो आमतौर पर blogspot.com के sub-domain से access किया जाता है.

गूगल की sub-domain के अलावा , आप custom डोमेन जैसे कि (www.example.com)  का भी इस्तेमाल कर सकते हैं और अपने ब्लॉग को एक प्रोफेशनल्स लुक दे सकते हैं. 1 मई 2010 तक, यूजर्स अपने ब्लॉग को ख़ुद के सर्वर पर FTP के माध्यम से host कर सकते थे जहां आपकों DNS की मदद से गूगल सर्वर को पॉइंट करना था.

गूगल के एडसेंस प्रोग्राम के द्वारा ब्लॉगर्स अपने ब्लॉग की मदद से इंकम (पैसे) भी कमा सकते हैं. एक ब्लॉग को कई कार्य के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है जैसे कि पर्सनल, व्यावसायिक कार्य, अपने विचार को दूसरे तक पहुंचने के लिए, निजी दैनंदिनी के रूप में , या अन्य किसी खास उद्देश्य के लिए.

ब्लॉगर (Blogger)

साइट का प्रकार ब्लॉग होस्ट
निर्माता पायरा लैब्स (Pyra Labs)
मालिक गूगल
इनमें उपलब्ध हिंदी, अंग्रेज़ी, फ़ारसी, और अन्य बहुत भाषाओं में
पंजीकरण वैकल्पिक, निःशुल्क
कॉमर्शियल हां
क्षेत्र दुनिया भर
लॉन्च की तारीख 23 अगस्त 1999
किस कोड में लिखा गया पाइथन (Python)
URL www.blogger.con
वर्तमान स्थिति सक्रिय

एल ब्लॉगर अकाउंट में आप 100 ब्लॉग बना सकते हैं,जिनमें आप blogspot.com का डोमेन इस्तेमाल कर सकते हैं. यदि आप ख़ुद का डोमेन इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आप वह भी कर सकते हैं और इंटरनेट की दुनिया में अपना योगदान दे सकते हैं.

ब्लॉगर का मतलब और अर्थ

ब्लॉगर का शाब्दिक अर्थ अभी तक गूगल द्वारा नहीं बताया गया है लेकिन ब्लॉगिंग क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के द्वारा इसका एक मतलब बताया जाता है, जिसे नीचे पढ सकते हैं :

वर्तमान समय में, ब्लॉगर का मतलब ब्लॉग बनाकर उसपर नॉलेज, इन्फॉर्मेशन, फ़एक्टस, आदि चीजें शेयर करने वाले वेक्ति को Blogger कहा जाता है. इस प्रकार की काम को ऑनलाइन दुनिया में ब्लॉगिंग (Blogging) कहा जाता है.

किसी भी ब्लॉग वेबसाइट पर शेयर किए गए लेख को आमतौर पर ब्लॉग पोस्ट कहा जाता है जिसे समय समय पर एक ब्लॉगर अपने ब्लॉग पर पब्लिश करता है.

ब्लॉगर का इतिहास

23 अगस्त 1999, ब्लॉगर को पायरा लैब्स (Pyra Labs) के द्वारा लॉन्च किया गया था. पायरा लैब्स एक पॉप्युलर ब्लॉग पब्लिशिंग टूल बनाने के लिए लोकप्रिय हैं जो ब्लॉगर की format को बनाया है.

फरवरी 2003, Pyra Labs को गूगल ने अघोषित टर्म के अंतर्गत ख़रीद लिया जो प्रीमियम सुविधाओं के लिए चार्ज करती थी जिसे गूगल ने मुफ़्त कर दिया.

अक्टूबर 2004 में, पायरा लैब्स के सह-संस्थापक, इवान विलियम्स ने Google को छोड़ दिया. 2004 में, Google ने Picasa खरीदा जिसके फोटो शेयरिंग यूटिलिटी को ब्लॉगर से जोड़ दिया , जिससे यूजर्स अपने ब्लॉग पर फोटो पोस्ट करने में सक्षम थे .

साथ ही आपके जानकारी के लिए बता दें, लेख में इमेज इस्तेमाल करने से ब्लॉग पोस्ट user friendly बन जाती है जिससे किसी भी सर्च इंजन में रैंक करने में मदद मिलती है.

9 मई 2004 को, ब्लॉगर ने एक प्रमुख रीडिज़ाइन पेश किया, जिसमें कुछ नई विशेषताएं शामिल थीं जैसे कि :

  • ब्लॉग वेबसाइट के लिए टेंप्लेटस (web templates)
  • पोस्ट के लिए संग्रह पृष्ठ (individual archive pages for posts)
  • ब्लॉग पर कमेंट सेक्शन (comments)
  • ईमेल के द्वारा पोस्ट करना (posting by email)

14 अगस्त 2006 को, ब्लॉगर ने लटेस्ट वर्जन “Invader” को beta में लांच किया, इससे यूजर्स गूगल के सर्वर पर ब्लॉग को Migrate कर सकते थे और साथ ही कुछ और नई features को जोड़ा गया जैसे कि फ्रेंच, इतालवी, जर्मन और स्पेनिश में इंटरफ़ेस भाषा में शामिल करना. दिसम्बर 2006 में, Beta version से निकाल कर ओरिजिनल वर्जन में इस्तेमाल करने के लिए लांच किया गया.

मई 2007 तक, ब्लॉगर पूरी तरह से Google द्वारा संचालित सर्वरों पर चला गया था जिससे ब्लॉगर की पूरी ब्लॉग गूगल होस्ट करने लगा. साथ ही आपको बता दें 2007 में यूनिक विजिटर्स की संख्या के मामले में ब्लॉगर शीर्ष 50 डोमेन की सूची में 16 वें स्थान पर था.

24 फरवरी 2015 को, ब्लॉगर ने घोषणा कि मार्च के अंत तक यह अपने यूजर्स को यौन रूप से स्पष्ट सामग्री पोस्ट करने की अनुमति नहीं देगा, जब तक कि नग्नता “Substantial Public Benefit ” पेश नहीं करती है, उदाहरण के लिए “कलात्मक, शैक्षिक, वृत्तचित्र, या वैज्ञानिक संदर्भ”.

एक लंबी अवधि के बाद, 28 फरवरी 2015 को, ब्लॉगर्स से गंभीर प्रतिक्रिया के लिए लेखांकन, Blogger ने यौन सामग्री पर प्रतिबंध लगाने के अपने फैसले को उलट दिया. इस घोषणा में पिछली नीति पर वापस जाने से स्पष्ट चित्र और वीडियो की अनुमति दी गई यदि कोई ब्लॉग को “adult” के रूप में चिह्नित किया गया था.

ब्लॉगर कितने भाषाओं में उपलब्ध हैं?

2016 के अंत तक, ब्लॉगर (Blogger) इन 60 भाषाओं में उपलब्ध है:

अफ्रीकी अम्हारिक अरबी बास्क बंगाली
बल्गेरियाई कैटलन चीनी (हांगकांग) चाइनिज (Simplified) चीनी (Traditional)
क्रोएशियाई चेक डेनिश डच अंग्रेजी(UK)
अंग्रेजी (USA) एस्टोनियाई फिलिपिनो फिनिश फ्रेंच
गैलिशियन् जर्मन ग्रीक गुजराती हिब्रू
हिंदी हंगेरियन आइसलैंडिक इंडोनेशियाई इतालवी
जापानी कन्नड़ कोरियाई लातवियाई लिथुआनियाई
मलय मलयालम मराठी नार्वेजियन फारसी
पोलिश पोलिश पुर्तगाली (ब्राजील) पुर्तगाली (पुर्तगाल) रोमानियाई
रूसी सर्बियाई स्लोवाक स्लोवेनियाई स्पेनिश(Latin America)
स्पेनिश (स्पेन) स्वाहिली स्वीडिश तमिल तेलुगु
थाई तुर्की यूक्रेनी उर्दू वियतनामी, & ज़ुलु

ब्लॉगर की Features में परिवर्तन

आपकों बता दें, 2006 में, ब्लॉगर (Blogger) को Redesign किया गया जिसमें इसपर बने सभी ब्लॉग को Google Servers पर माइग्रेट कर दिया गया. गूगल के सर्वर पर ब्लॉग वेबसाइट को रखने के पीछे गूगल दावा करता है कि :

  • इसकी सर्विस और सभी से अच्छा है
  • सर्वर की क्वॉलिटी बेहतरीन है
  • ब्लॉग वेबसाइट secure और fast load होती है

Google के Servers पर migration के साथ साथ बहुत से नए features को ब्लॉगर से जोड़ा गया :

  • Drag & Drop Templates : जिसमें आप आसानी से editing कर सकते हैं.
  • Reading Permission Feature : इसके मदद से आप प्राइवेट ब्लॉग बना सकते हैं.
  • Web Feed Options : ब्लॉग के इस वेब फ़ीड ऑप्शंस से ब्लॉग पर फ़ीड की सुविधाएं आसानी से जोड़ा जा सकता है.
  • Blog Updates : ब्लॉग को dynamically अपडेट किया जाएगा.
  • HTML : html फ़ाइल को edit और update करना

ब्लॉगर की “Draft” feature को रिलीस करने से पहले टेस्ट किया गया जिसे इसके Official Blog में बतलाया गया था. सितंबर 2009 में, गूगल की 10वीं anniversary celebration में इसे लोगों के बीच लांच किया गया. इस features में आप बहुत से और नई चीजें देख सकते हैं जैसे कि :

  • पोस्ट में लोकेशन को जोड़ना (via geotagging)
  • ब्लॉग पोस्ट के लिए टाइम-स्टैंपिंग की ऑप्शन जिसे आप ओरिजिनल समय पर पब्लिश न कर किसी न समय के लिए schedule कर सकते हैं.
  • पोस्ट एडिटर को वर्टिकल re-sizing करना.
  • compose mode में link को edit करना.
  • Safari 3 के साथ साथ Windows और macOS सपोर्ट करना.
  • Preview ऑप्शन जो आपकों पब्लिश होने के पहले ब्लॉग पोस्ट की एक झलक दिखलाती है.
  • Image और Tags features को जोड़ना
  • “Undo” और “Redo” Button के साथ साथ बहुत से और जरूरी button की ऑप्शन
  • ऐसे बहुत से अन्य और जरूरी सुविधाएं ब्लॉगर में डाला गया जिसके कारण Blogger ब्लॉग के लिए और बेहतर होते गया.

इसके अलावा, 2010 में, Blogger ने बहुत से Templates provide करने लगा जिसके मदद से किसी भी ब्लॉग की design को बदला जा सकता है. इसके साथ साथ blog editor को और बेहतर बनाया और इसमें नई नई चीजें जोड़ा गया जिससे ब्लॉग पोस्ट को बेहतर बनाने में मदद मिलती है.

Blogger की Domain Address

ब्लॉगर में अलग अलग देश के हिसाब से Sub-Domain प्रोवाइड किया जाता है. जैसे कि;

इंडिया के लिए : “exampleuserblogname.blogspot.in”

कनाडा के लिए : “exampleuserblogname.blogspot.ca”

यूनाइटेड किंगडम के लिए : “exampleuserblogname.blogspot.co.uk”

यदि कोई ब्लॉग URL की Country-specific URL को रिमूव कर दिया जाए तब भी उसे access किया जा सकता है जिसे हम “Google’s No Country Redirect” बोलते हैं, उदहारण के लिए यह Url कुछ ऐसा होता है “exampleuserblogname.blogspot.com”.

ब्लॉगर को मोबाइल पर कैसे इस्तेमाल करें?

ब्लॉगर को केवल आप डेस्कटॉप या लैपटॉप पर ही इस्तेमाल नहीं कर सकते बल्कि इसे मोबाइल डिवाइस पर भी इस्तेमाल किया जा सकता है. इसे मोबाइल डिवाइस पर दो तरीके से इस्तेमाल किया जा सकता है :

1. Mobile Browser

यदि आप मोबाइल से ब्लॉगर की सभी सुविधाओं का लाभ उठाना चाहते हैं तो आप इसे किसी भी मोबाइल ब्राउज़र से इस्तेमाल कर सकते हैं. उसके लिए आपकों “www.blogger.com” पर विजिट करना होगा और वहां गूगल अकाउंट से कनेक्ट कर इसका उपयोग कर सकते हैं.

2. Android / iOS App

यदि आपके पास android device है तो blogger की मोबाइल एप्लीकेशन गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सभी सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं. साथ ही यदि आप iOS यूजर्स है तो आप apple store से इसे डाउनलोड कर ब्लॉगर की features को अपने डिवाइस में इस्तेमाल कर सकते हैं.

ब्लॉगर के फायदे

ब्लॉगर सर्विस के बहुत से ऐसे फ़ायदे है जिसे आपकों जानना चाहिए जैसे कि :

  • यह सभी के लिए बिलकुल मुफ़्त है.
  • लगभग सभी ब्लॉगिंग जरूरतों को पूरा करता है.
  • Google के द्वारा free में life time के लिए hosting
  • गूगल प्रोडक्ट्स जैसे कि Google Drive, Picasa, FeedBurner, Google Webmaster, Google Analytics, Google Adsense, आदि के साथ आसानी से जोड़ सकते हैं.
  • हाई लेवेल सिक्यूरिटी
  • custom domain का भी उपयोग कर सकते हैं.
  • सर्च रिज़ल्ट में जल्दी दिखलाता है.
  • गूगल सर्च इंजन में बहुत से फ़ायदे मिलते हैं.
  • सभी चीजें को आसानी से समझा और इस्तेमाल किया जा सकता है.

ब्लॉगर के नुकसान

Blogger की कुछ ऐसे नुकसान भी है जिसे आपको इसे इस्तेमाल करने से पहले जनाना चाहिए :

  • लिमिट में customize कर सकते हैं.
  • ब्रांड्स ब्लॉगर ब्लॉग को ज़्यादा seriously नहीं लेते हैं.
  • लिमिटेड SEO Customization ऑप्शन
  • कमेंट को नियंत्रित नहीं कर सकते हैं जिससे बहुत spaming होती है.
  • Permalink को अपने अनुसार modified नहीं कर सकते हैं.
  • लिमिटेड features उपलब्ध है.
  • Plugin इस्तेमाल करने के लिए ऑप्शन नहीं है.
  • सपोर्ट बहुत कम मिलता है.
  • आपके हाथ में अपने ब्लॉग की पूरी कंट्रोल नहीं है, गूगल आपके साथ कुछ भी कर सकता है.

ब्लॉगर की सीमाएं (Limitations of Blogger Service in Hindi)

ब्लॉगर सर्विस की कुछ सीमाएं है जिसके बारे में आपकों जानकारी होनी चाहिए :

1. Blog Description 

ब्लॉगर में आप लगभग 500 कैरक्टर तक ही ब्लॉग description लिख सकते हैं.

2. Number of Blogs

एक ब्लॉगर अकाउंट की मदद से आप केवल 100 ब्लॉग ही बना सकते हैं.

3. Number of Levels

एक ब्लॉग पर 5,000 यूनिक लेवल बना सकते हैं और वही एक ब्लॉग पोस्ट में केवल 20 यूनिक levels बना सकते हैं.

4. Number of Pictures

आपकों पिक्चर्स शेयर करने में भी लिमिटेड स्टोरेज मिलता है जैसे कि 1GB Picasa Web के साथ, 15GB स्टोरेज स्पेस Gmail और Google Drive के साथ.

5. Number of Posts

वर्तमान में ब्लॉग पोस्ट पर कोई सीमाएं नहीं हैं, आप सीमाएं पोस्ट कर सकते हैं.

6. Size of Pages

व्यक्तिगत पेज के लिए 1MB तब ऑप्शन दिया जाता है.

7. Size of Pictures

यदि आप पोस्ट Blogger Mobile से कर रहे हैं तो एक पिक्चर केवल 250KB तक, और 1600px तक scaled कर सकते हैं.

8. Team Members

यदि आप अपने ब्लॉग पर टीम जोड़ना चाहते हैं जो पोस्ट लिखने में आपकी मदद करेगी तब आप एक ब्लॉग पर 100 से अधिक इनविटेशन नहीं कर सकते है.

9. Favicon

ब्लॉग Favicon के लिए Square Image लगता है जिसकी size 100KB से कम होती है.

10. Account Suspension 

यदि साइट ब्लॉगर की terms of service को violating करती है तो आपकी आकाउंट बिना किसी नोटिस के सस्पेंड कर दिया जाएगा. अगर बार बार violating कर रहे हैं तो आपकी गूगल अकाउंट को सस्पेंड कर दिया जाएगा.

ब्लॉगर ने किन किन देशों में सर्विस ब्लॉक किया है?

Blogger ने समय समय पर कई देशों को कुछ समय के लिए ब्लॉगर सर्विस को ब्लॉक किया है जिनमें से कुछ नाम निम्नलिखित हैं :

  • फीजी
  • चीन
  • इंडिया
  • ईरान
  • पाकिस्तान
  • कज़ाखस्तान
  • सीरियाई अरब गणराज्य
  • म्याँमार
  • वियतनाम
  • येमन
  • तुर्की और अन्य

इस लेख में,

इस लेख में आपकों ब्लॉगर से संबंधित संपूर्ण जानकारी दी गई है जैसे कि ब्लॉगर क्या है, Blogger kya hai (What is Blogger in Hindi) इसका इतिहास, फायदे और नुकसान, सीमाएं, आदि चीजों के बारे डिटेल्स जानकारी मुहैया कराया गया है. हम आशा करते हैं कि हमारी यह पोस्ट Blogger Service के संबंधित आपकों पसंद आएगी और कुछ नया सीखने को मिला होगा.

इन्हें भी देखें : wikiHow क्या हैं? 

यदि यह लेख आपकों पसंद आई है तो कृपया इसे अपने दोस्तों और जरूरतमंद लोगों के साथ शेयर जरूर करें. साथ ही इस लेख से संबंधित आपके मन में कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमें नीचे कमेंट कर सकते हैं.

हमारी पूरी कोशिश होती है किसी भी ब्लॉग पोस्ट में हाई क्वॉलिटी डिटेल्स में जानकारी उपलब्ध कराने की ताकि हिंदी पाठकों को किसी अन्य वेबसाइट पर जाने की जरूरत न पढ़े.

Blogger.com से संबंधित FAQ

गूगल ब्लॉगर क्या है?

गूगल ब्लॉगर एक प्रकार की ब्लॉग पब्लिशिंग और होस्टिंग सर्विस है.

ब्लॉगर का मालिक कौन है?

ब्लॉगर का मालिक “Google” है, जो यहां पर उपलब्ध सभी ब्लॉग को होस्ट करता है.

Blogger को कब लांच किया है था?

ब्लॉगर सर्विस को 23 अगस्त 1999 को पायरा लैब्स (Pyra Labs) द्वारा लांच किया गया था जिसे 2003 में गूगल ने इसे ख़रीद लिया.

गूगल ब्लॉगर किसने लिखा गया है?

गूगल ब्लॉगर को पाइथन (Python) प्रोग्रामिंग भाषा में लिखा गया है.

क्या Blogger फ्री है?

हाँ, गूगल ब्लॉगर सभी के लिए पूरी तरह से एक मुफ़्त सर्विस है.

What do you think?

342 Points
Upvote Downvote

Written by Hindikul Editorial

हिंदीकुल भारत का #1 सबसे विश्वसनीय हिंदी ब्लॉग हैं जहां आपकों विभिन्न विषयों पर विश्वसनीय रिसर्च तथा एक्सपर्ट्स का नॉलेज एक साथ मिलते हैं.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

One Comment