बिजनेस करने के फायदे और नुकसान

बिजनेस करने के फायदे और नुकसान, Business Ke Fayde Aur Nuksan, Advantages and Disadvantages of Business

देश में स्टार्टउप कल्चर तेजी से बढ़ रहा है लेकिन अगर मैं आपसे पूछूं बिजनेस करने के फायदे और नुकसान क्या होते हैं तो आपका जवाब क्या होगा?

अच्छी बात है कि, आपको अधिक सोचने की जरूरत नहीं है क्योंकि बिजनेस के फायदे और नुकसान के बारे में हमने इस लेख में सरल शब्दों में बताया है.

आप स्टूडेंट है, वर्तमान में नौकरी कर रहे हैं, कोई बिजनेस कर रहे हैं या करने की सोच रहे, तो आपको बिजनेस के फायदे और नुकसान (Business ke fayde aur nuksan) के बारे में जरूर जान लेना चाहिए.

इसलिए इस लेख में बिजनेस के दोनों पहलुओं को स्पष्ट रूप से बताया गया है ताकि जब भी आप बिजनेस करे इन बातों को ध्यान में रखते हुए करे.

अनुक्रम दिखाएँ

बिजनेस करने के फायदे और नुकसान (Advantages and Disadvantages of Business)

क्या होते हैं बिजनेस करने के फायदे और नुकसान
बिजनेस के फायदे बिजनेस के नुकसान
खुद का बॉस होनाबिजनेस में वित्तीय जोखिम अधिक होना
बिजनेस में स्वतंत्रता मिलनाअसफल होने की संभावना
बिजनेस में असीमित पैसाबिजनेस में प्रतियोगिता
अच्छी लाइफस्टाइल होनाबिजनेस में उतार चढ़ाव
सीखने के अवसरबिजनेस से स्वास्थ्य पर बुरा असर
बड़े पैमाने पर बदलाव लाने में आसानीकई भूमिकाएँ, चाहे आप इसे पसंद करें या न करें
लोगों के लिए रोजगार का जरिया बननासमय प्रतिबद्धता
देश की अर्थव्यवस्था में योगदानमार्गदर्शन की कमी होना

बिजनेस करने के फायदे (Advantages of Business)

बिजनेस करने के फायदे (Advantages of Business)

1. खुद का बॉस होना

बिजनेस करने के फायदे है कि आप खुद का बॉस होते हैं. क्योंकि आप बिजनेस का मालिक खुद होते है इसलिए बिजनेस को आगे बढ़ाने की पूरी जिम्मेवारी आपकी होती है.

आपको काम से कोई निकाल नहीं सकता, किसी का प्रेशर नहीं होता, जब चाहे कोई निर्णय ले सकते हैं और बिना किसी की दखलअंदाजी से काम कर सकते हैं.

ऐसे कई चीजे है जो आप एक मालिक के रूप कर सकते हैं. यही आप किसी नौकरी में होते तो आपको टाइम से ऑफिस आना, टाइम पर काम पूरा करना, खुद कोई निर्णय नहीं ले सकते हैं, आदि चीजों से गुजरना पड़ता, वही बिजनेस में कई चीजों से स्वतंत्रता मिलती है.

2. बिजनेस में स्वतंत्रता मिलना

बिजनेस करने से कई तरह की स्वतंत्रता मिल सकती है जैसे कि समय की स्वतंत्रता, काम करने की स्वतंत्रता, पैसे की स्वतंत्रता, आदि.

समय की स्वतंत्रता

आप अपने बिजनेस में लोगों को रख कर उनसे काम करवा सकते हैं और समय की बचत कर सकते हैं. बचे हुए समय में आप किसी अन्य चीजों को कर सकते हैं जैसे कि कोई नई बिजनेस पर काम करना, कहीं घूमने जाना, नई स्किल सीखना, आदि.

काम की स्वतंत्रता

बिजनेस में आपको काम करने की भी स्वतंत्रता होती है. आप अपने अनुसार जब चाहे कोई काम कर सकते हैं लेकिन वही नौकरी में यह सब न के बराबर होती है. नौकरी में आपको एक ही काम लंबे समय तक करना पड़ता है.

पैसे की स्वतंत्रता

जब आपका बिजनेस सही से चलने लगता है तब आप अच्छी कमाई करने लगते हैं. बिजनेस करने से आप जल्दी financial freedom को प्राप्त कर सकते है जो किसी अन्य कार्य से करना थोड़ा मुश्किल होता है.

3. बिजनेस में असीमित पैसा

एक बिजनेस में आप कई तरीकों से पैसा बना सकते है. आप एक से अधिक income source बना सकते हैं और जितना चाहे उतना पैसा कमा सकते हैं.

वही नौकरी में पैसे कमाने की मूलतः एक ही जरिया होता है जो आपको महीने के अंत में सैलरी के रूप में मिलता है. बिजनेस में पैसा बढ़ते जाता है और वही नौकरी में कई बार समान्य सैलरी लंबे समय तक मिलता है.

4. अच्छी लाइफस्टाइल होना

एक बिजनेस का मालिक होने से आपको जीवन शैली के कुछ फायदे मिलते हैं. क्योंकि आप मालिक है, आप तय करते हैं कि आप कब और कहाँ काम करना चाहते हैं.

यदि आप कोई पर्सनल काम या अपने परिवार के साथ अधिक समय बिताना चाहते हैं, तो आपको समय के लिए पूछने की आवश्यकता नहीं है.

यदि आपके परिवार के साथ पूरे दिन रहना महत्वपूर्ण है, तो आप अपने बिजनेस को अपने घर से चलाने का निर्णय ले सकते हैं.

साथ ही, बिजनेस से जब आप अच्छी कमाई करने लगते है तो आपकी भौतिकवादी चीज़े को पूरा करना और आसान हो जाता है जैसे कि महंगे घर, गाड़ी, कपड़े, आदि जो आपके लाइफस्टाइल को और बेहतर बनाती है.

5. सीखने के अवसर

एक बिजनेस के मालिक के रूप में, आप अपने बिजनेस के सभी पहलुओं में शामिल होते हैं, जो आपको विभिन्न व्यावसायिक कार्यों से रूबरू करवाता होगा.

साथ ही, बिजनेस में आप कई चीजों को एक साथ देखते हैं जैसे कि टीम, अलग अलग लोगों से मिलना, बिजनेस यात्रा करना, आदि जिससे सीखने को बहुत कुछ मिलता हैं.

आप लोगों के साथ सीख सकते हैं, लोगों से सीख सकते हैं या अपने बिजनेस अनुभव से सीख सकते हैं. एक बिजनेस के मालिक के रूप में सीखने को बहुत कुछ है इसलिए हमेशा सीखते रहे और जीवन में आगे बढ़ते रहे.

6. बड़े पैमाने पर बदलाव लाने में आसानी

बिजनेस अक्सर किसी प्रॉब्लम को हल कर रहा होता है. यदि प्रॉब्लम बड़ी है तो बिजनेस चलने की संभावना अधिक हो जाती है.

इसलिए आप किसी न किसी रूप में, देश के बदलाव के लिए कार्य कर रहे होते हैं. बिजनेस में आप एक टीम के साथ काम करते हैं जिससे आपको किसी लक्ष्य को पाने में और आसानी हो जाती है.

आप टीम के साथ मिलकर समाज में बड़े पैमाने पर बदलाव ला सकते हैं जो अकेले करना थोड़ा मुश्किल हो सकता है.

7. लोगों के लिए रोजगार का जरिया बनना

बिजनेस करने से आप लोगों को रोजगार दे सकते हैं. एक व्यवसाय में कई तरह के काम होते हैं जिसे अकेले नहीं किया जा सकता है.

बिजनेस में कर्मचारी होते हैं जो आपके अलग अलग कार्य को देखते हैं. एक बिजनेस शुरू होने से उनको रोजगार मिलता है.

इसलिए देश में जितने अधिक बिजनेस खुलेंगे उतना ही रोजगार बढ़ेगी और बेरोजगारी कम होगी.

8. देश की अर्थव्यवस्था में योगदान

1991 से देश में बहुत तेजी से आर्थिक प्रगति हुई है. वह बिजनेस ही है जिससे देश की अर्थव्यवस्था में सबसे अधिक योगदान मिला है.

बिजनेस से लोगों को रोजगार मिलता है, खरीद बिक्री होती है, नए बिजनेस खुलते हैं, आदि जो वास्तव में देश की अर्थव्यवस्था में योगदान करते हैं.

इसलिए यह जरूरी है कि बिजनेस देश में नया खुले, लोगों को रोजगार मिले और हमारे देश की अर्थव्यवस्था में सुधार हो.

बिजनेस करने के नुकसान (Disadvantages of Business)

बिजनेस करने के नुकसान (Disadvantages of Business)

1. बिजनेस में वित्तीय जोखिम अधिक होना

बिजनेस शुरू करने और उसे विकसित करने के लिए पैसों की जरूरत होती है. कई बार आपको अपनी अधिकांस बचत या कर्ज़ लेने की आवश्यकता होती है.

इसलिए अगर चीजें ठीक नहीं चलती हैं, तो आपको बड़ा आर्थिक नुकसान हो सकता है. शुरुआत में बिजनेस के अलावा, कोई गारंटीकृत आय नहीं है.

यह दर्शाता है कि इसमे अधिक वित्तीय रिस्क होता है. इसलिए आपको सभी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए बिजनेस शुरू करना चाहिए.

आपको कोशिश करना चाहिए छोटा से छोटा इन्वेस्टमेंट से अपना बिजनेस शुरू करने की, जिससे यदि बिजनेस फ्लॉप होता है तो अधिक आर्थिक नुकसान न हो.

जब ग्राहक द्वारा बिजनेस का प्रतिक्रिया अच्छा आने लगे तब आप धीरे धीरे और पैसा लगा सकते हैं और अपने बिजनेस को बड़े स्तर पर ले जा सकते हैं.

2. असफल होने की संभावना

आपका बिजनेस मार्केट में चलेगा कि नहीं वह बहुत सी चीजों पर निर्भर करता है जैसे कि आपका प्रॉडक्ट, सर्विस, प्राइस, लोकेशन, आदि.

यदि यह सब ग्राहक के मुताबिक ठीक नहीं हुआ तो इसमे असफल होने की संभावना अधिक होती है. आपको अपने ग्राहक को नजर में रखते हुए बिजनेस को करना चाहिए जैसे कि वह क्या चाहता है, मार्केट में क्या डिमांड है, आदि.

” सफलता का जश्न मनाना ठीक है लेकिन असफलता से सबक लेना ज्यादा जरूरी है” – बिल गेट्स

3. बिजनेस में प्रतियोगिता

मार्केट में यह बिल्कुल भी नहीं हो सकता है कोई आपके जैसा बिजनेस नहीं कर रहा होगा, कोई न कोई जरूर होगा जो समान्य बिजनेस में होगा.

इसलिए बिजनेस में प्रतियोगिता भी हमेशा बनी रहती है. यह जरूर है कि आपके बिजनेस का कोई USP हो, कुछ ऐसा हो जो बाकि सब नहीं कर रहे हो, तभी आप मार्केट में टिक सकते हैं.

4. बिजनेस में उतार चढ़ाव

बिजनेस में यह भी समय आएगा की आपका बिजनेस कभी अच्छा कर रहा होगा तो कभी मन मुताबिक रिजल्ट नहीं मिल रहा होगा.

बिजनेस में उतार चढ़ाव हमेशा बनी रहेगी. आपको उसे ठीक करने के बारे में एक्शन लेना चाहिए और हमेशा बदलाव के लिए तैयार होना चाहिए.

5. बिजनेस से स्वास्थ्य पर बुरा असर

बिजनेसमैन कई चीजों को मैनेज करता है, दिन रात कड़ी मेहनत करता है, बिजनेस का पूरा भार मालिक के कंधों पर ही होता है.

आपको अपने कर्मचारियों के साथ साथ ग्राहकों की समस्याओं को भी देखना होता है. बिजनेस में एक समान काम कर रहे अन्य बिजनेस को भी देखना होता है.

इसके अलावा बिल, प्रॉडक्ट को ठीक करना, सर्विस ठीक देना, नई चीजों को लाना, आदि कई चीजों का भी स्ट्रेस होता है जो आपके स्वास्थ्य पर बुरा असर डालता है.

6. कई भूमिकाएँ, चाहे आप इसे पसंद करें या न करें

जब आप बिजनेस शुरू करते हैं, तो निस्संदेह आप हर उस चीज को करने या उसकी देखरेख खुद को ही करना पड़ता है.

कई बार बिजनेस के लिए पर्याप्त पैसा नहीं होता है इसलिए शुरू के दिनों में एक मालिक की कई भूमिकाएँ होती है. वह खुद मालिक भी होता है और कर्मचारी भी.

जब तक आपका बिजनेस ठीक से नहीं चलने लगता तब तक आप पसंद करें या न करें कई कार्य आपको खुद को ही करना होगा.

7. समय प्रतिबद्धता

लोग अक्सर बिजनेस शुरू करते हैं ताकि उनके पास अपने परिवारों के साथ बिताने के लिए अधिक समय हो. दुर्भाग्य से, बिजनेस चलाने के लिए आपको इसे बहुत समय देना होगा.

बिजनेस में आपके पास समय निकालने की स्वतंत्रता है लेकिन आप बिजनेस से दूर नहीं हो सकते. वास्तव में, बिजनेस में खाली समय निकालना किसी अन्य कार्य के लिए मुश्किल होता है.

नौकरी में आपको एक निर्धारित समय पर काम पर जाना और एक निर्धारित समय पर वापस आना हैं लेकिन बिजनेस कर रहे व्यक्ति को 24 घंटे भी कम लगता है.

8. मार्गदर्शन की कमी होना

लोग बिजनेस शुरू तो कर लेते हैं लेकिन सही मार्गदर्शन नहीं होने से बहुत गलती करते हैं. मेंटरशिप से आपको प्रभावी व्यावसायिक निर्णय लेने और रणनीतिक योजना बनाने में मदद मिलती है.

साथ ही, एक मेंटर बिजनेस के कई पहलुओं को ठीक करने में मदद करता है. वह आपको व्यवसाय शुरू करने के बारे में गलत मानसिकता, दृष्टि की कमी, प्रतियोगिता, आदि चीजों में मार्गदर्शन करने का काम करते हैं.

नए बिजनेसमैन को मार्गदर्शन की कमी होती है जिससे बिजनेस पर भी असर पड़ता है. वह ऐसे गलती कर रहे होते हैं जिससे बिजनेस सफल नहीं हो पाता, इसलिए बिजनेस में मार्गदर्शन आपको कई चीजों से बचा सकता है.

बिजनेस करने से क्या लाभ होते हैं?

बिजनेस करने से कई लाभ होते हैं जैसे कि – बिजनेस में खुद का बॉस होना, पैसे, समय और काम की स्वतंत्रता, सीखने के अवसर, अच्छी लाइफस्टाइल, आदि.

बिजनेस करने से क्या हानि होती है?

बिजनेस करने से कुछ हानि भी होता है जैसे कि – बिजनेस में वित्तीय जोखिम, प्रतियोगिता, असफल होने की संभावना, उतार चढ़ाव, स्वास्थ्य पर बुरा असर होना, आदि.

बिजनेस जॉब से बेहतर क्यों है?

कई मामलों में बिजनेस जॉब से बेहतर मानी जाती है जैसे कि बिजनेस में खुद का बॉस होना, काम करने की स्वतंत्रता, अच्छी लाइफस्टाइल, हाई प्रॉफिट, आदि.

निष्कर्ष,

बिजनेस करने के कई फायदे भी है और कुछ नुकसान भी है. ऐसा इसलिए क्योंकि एक बिजनेस को सफल बनाने के पीछे कई चीज़ों से गुजरना पड़ता है.

लेकिन एक इंसान को बिजनेस करने के फायदे होते है वह लगभग सभी बिजनेसमैन पर लागू होते हैं जैसे कि काम करने की स्वतंत्रता, अधिक पैसा कमाना, ख़ुद का बॉस होना, आदि.

उसी तरह बिजनेस करने के नुकसान क्या हो सकते हैं, वह चीज़े भी लगभग सभी बिजनेसमैन पर लागू होती है जैसे कि असफल होने की संभावना, प्रतियोगिता, बिजनेस में उतार चढ़ाव, आदि

यदि आप बिजनेस कर रहे या कोई बिजनेस शुरू करने की सोच रहे हैं तो आपको पहले से ही Business करने के लाभ और हानि पता होना चाहिए, जो इस लेख में आपको बताई गई है.

हम उम्मीद करते हैं आपको बिजनेस के लाभ और हानि (Advantages and disadvantages of Business) समझ में आ चुकी होगी. दोस्तों, यह इतना ही सीमित नहीं है बल्कि बिजनेस में अन्य कई चीजे भी होती है जो आपको वास्तव में इसे करने पर ही पता चलता है.

आप बिजनेस से होने वाले फायदे और नुकसान के बारे में क्या सोचते हैं?, हमें नीचे कॉमेंट कर के जरूर बताएं और साथ ही लेख पसंद आने पर अन्य लोगों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करे.

इसे भी पढ़े:

क्या आपको ये आर्टिकल पसंद आया ?

344 Points
Upvote

हिंदीकुल द्वारा लिखित

हिंदीकुल (Hindikul) एक प्रमुख शैक्षिक, सूचनात्मक और सलाह वेबसाइट है जो अन्य साइटों की तुलना में विश्वसनीय और सटीक लेख पाठकों तक पहुंचाती हैं.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *