अंग्रेजी के जनक कौन है?

अंग्रेजी के जनक कौन है यानी इंग्लिश के पिता किसे कहा जाता है? (Father of English) के बारे में जानने के लिए इस लेख में पूरा पढ़िए.

इस लेख में आपकों अंग्रेजी के जनक कौन है और उनका नाम क्या है? के साथ – साथ इंग्लिश और इसके जनक से संबंधित कई महत्वपूर्ण बातों के बारे में बतलाया गया है.

यदि आप इंग्लिश साहित्य के छात्र हैं या इसके बारे में जानना एंव सीखना चाहते हैं तो सबसे पहले आपकों इंग्लिश के जनक कौन है?(English ke janak) के बारे में जानना चाहिए.

अंग्रेजी के जनक कौन है? (English ke janak kaun hai)

अंग्रेजी के जनक कौन है

जेफ्री चौसर (Geoffrey Chaucer) को अंग्रेजी के जनक कहा जाता है, जिन्होंने अंग्रेजी साहित्य को विकसित करने में अद्भूत योगदान दिया है. उन्हें व्यापक रूप से मध्य युग के सबसे महान अंग्रेजी कवि माना जाता हैं और “अंग्रेजी साहित्य का पिता” के साथ – साथ  “अंग्रेजी कविता का पिता” भी कहा जाता है.

इसके अलावा उन्हें “द कैंटरबरी टेल्स” के लिए भी जाना जाता है. उन्होंने अंग्रेजी कवि और लेखक के अलावा एक दार्शनिक और खगोलशास्त्री के रूप में भी प्रसिद्धि प्राप्त की.

अंग्रेजी भाषा एवं साहित्य को नया रूप देने में जेफ्री चौसर, शेक्सपियर आदि जैसे कई महान लोगों का योगदान है. इसलिए अंग्रेजी के जनक कौन है? (English ke janak) किसी एक वेक्ति को कहा नहीं जा सकता.

अंग्रेजी साहित्य के जनक/पिता जेफ्री चौसर
अंग्रेजी कविता के जनक/पिता जेफ्री चौसर

जेफ्री चौसर कौन थे? (Geoffrey Chaucer in Hindi)

अंग्रेजी के जनक जेफ्री चौसर

जेफ्री चौसर एक अंग्रेजी कवि, लेखक, नौकरशाह (दरबारी) और राजनयिक थे, जिन्होंने अंग्रेजी साहित्य में अपना अमूल्य योगदान दिया है इसलिए उन्हें “अंग्रेजी साहित्य के पिता” या, वैकल्पिक रूप से, “अंग्रेजी कविता का पिता” कहा जाता है.

उनका जन्म 1340 और 1344 के बीच एक धनिक परिवार में हुआ था, जो लंदन में शराब का व्यापार किया करती थी. आपकों बता दें, जेफ्री चौसर पहले लेखक थे जिन्हें वेस्टमिंस्टर एब्बे के पोएट्स कॉर्नर में दफनाया गया था.

नाम जेफ्री चौसर (अंग्रेजी : Geoffrey Chaucer)
जन्म 1340 और 1344 के बीच
मृत्यु 25 अक्तूबर 1400, लंदन, यूनाइटेड किंगडम
शिक्षा Honourable Society of the Inner Temple
मुख्य क्षेत्र  लेखक, कवि, नौकरशाह, राजनयिक, दार्शनिक
नागरिकता यूनाइटेड किंगडम
पत्नी का नाम  फ़िलिपा रोएट
जेफ्री चौसर की मुख्य रचनाएँ
  1. द रोमाऊंट ऑफ़ द रोज़
  2. बुक ऑफ़ डचेस
  3. हाउस ऑफ़ फेम
  4. अनेलिडा एंड आर्साइट
  5. पारलेमेंट ऑफ़ फ़ाउलस
  6. ट्रॉयलस एंड क्रिसेड
  7. द लीजेंड ऑफ़ गुड वुमन
  8. कैंटरबरी टेल्स
प्रसिद्धि अंग्रेजी साहित्य के जनक (Father of English Literature)

जेफ्री चौसर को अंग्रेजी के जनक क्यों कहते हैं?

जेफ्री चौसर को अंग्रेजी के जनक एवं पिता इसलिए कहा जाता है क्योंकि उन्होंने लैटिन या फ्रेंच में लिखने के बजाय अंग्रेजी भाषा में लिखा और अंग्रेजी साहित्य को दुनियाभर में लोकप्रिय किया था.

अंग्रेजी के जनक जेफ्री चौसर के 5 तथ्य (Geoffrey Chaucer Quotes in Hindi)

  1.  “समय और ज्वार किसी आदमी के लिए इंतजार नहीं करते हैं.” (अंग्रेजी : Time and tide wait for no man)
  2. “धैर्य एक विजयी गुण है.” (अंग्रेजी : Patience is a conquering virtue)
  3. “सबसे बड़े विद्वान आमतौर पर सबसे बुद्धिमान लोग नहीं होते हैं.” (अंग्रेजी : The greatest scholars are not usually the wisest people)
  4. “हमें कुछ और वह चीज़ जो हम चाहते हैं उसे मना करें.” (अंग्रेजी : Forbid us something and that thing we desire)
  5. “दोषी सोचते हैं कि सारी बातें खुद की हैं.” (अंग्रेजी : The guilty think all talk is of themselves)

अंग्रेजी साहित्य के प्रसिद्ध लेखक, कवि एवं मुख्य लोग

  • जेफ्री चौसर
  • विलियम शेक्सपीयर
  • विलियम वर्ड्सवर्थ
  • जॉन मिल्टन
  • डेविड वॉलियम्स
  • जॉन न्यूटन
  • साइमन आर्मिटेज

अंग्रेजी भाषा का इतिहास ( History of English Language in Hindi)

अंग्रेजी भाषा एक पश्चिम जर्मेनिक भाषा है जिसकी उत्पत्ति एंग्लो-सेक्सन इंग्लैंड में हुई थी. यह इंग्लैंड के अलावा संयुक्त राज्य अमेरिका (USA), यूनाइटेड किंगडम , कनाडा , ऑस्ट्रेलिया , आयरलैंड , न्यूजीलैंड, आदि देशों के साथ – साथ कैरेबियन सागर और प्रशांत महासागर के विभिन्न द्वीप राष्ट्रों की प्रमुख भाषा है.

इसे दुनिया की पहली अंतर्राष्ट्रीय भाषा कहा जाता है जो दुनिया की आबादी का लगभग एक तिहाई लोगों द्वारा उपयोग किया जाता है.

अंग्रेजी को कई अंतर्राष्ट्रीय संगठनों और राष्ट्रमंडल देशों में बड़े पैमाने पर इसका उपयोग एक द्वितीय भाषा और अधिकारिक भाषा के रूप में किया जाता है. भारत के अलावा यह दुनिया के कई देशों की मुख्य राजभाषा भी है.

पूछे जाने वाले प्रश्न

अंग्रेजी भाषा की खोज किसने की थी?

अंग्रेजी भाषा की खोज किसी एक व्यक्ति की रचना नहीं है. किसी भी भाषा का जन्म और विकास उसके बोलने वाले व्यक्ति करते हैं. वैसे अंग्रेजी साहित्य के जनक जेफ्री चौसर को कहा जाता है.

विश्व में कितने देशों की प्रमुख भाषा अंग्रेजी है?

अंग्रेजी एक अंतर्राष्ट्रीय भाषा हैं जो कई देशों की प्रमुख भाषा भी है जैसे कि अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, ब्रिटेन, आदि.

अंग्रेजी भाषा के पिता किसे माना जाता हैं ?

जेफ्री चौसर को अंग्रेजी भाषा के पिता कहा जाता है, जिन्होंने अंग्रेजी साहित्य को पूरी दुनिया में विकसित करने में अपना अहम भूमिका निभाई है.

निष्कर्ष : आज आपने क्या सीखा ?

इस लेख में हमने अंग्रेजी के जनक कौन है (English ke janak kaun hai) और इससे संबंधित अन्य जानकारियां जैसे कि अंग्रेजी साहित्य के मुख्य लोग, खोज और जेफ्री चौसर के बारे में जानकारी हासिल की.

सवाल का उत्तर है : जेफ्री चौसर को अंग्रेजी के जनक एवं पिता (Father of English Literature) कहा जाता है. 

हम आशा करते हैं इस लेख में बतलाई गई इंग्लिश के जनक कौन है? से संबंधित आपकों पूरी जानकारी मिल गई होगी. यदि आपकों यह लेख पढ़ कर अच्छा लगा है तो कृपया इसे अपने सोशल नेटवर्किंग साइट पर शेयर जरूर करें और जरूरतमंद लोगों तक पहुंचाए.

संबंधित लेख, जिसे आपकों जरूर पढ़ना चाहिए :

1. हिंदी का जनक2. संस्कृत के जनक
3. भूगोल का जनक4. इतिहास का जनक
5. भौतिकी के जनक6. रसायन के जनक
7. जीवविज्ञान के जनक8. गणित के जनक

What do you think?

343 Points
Upvote Downvote

Written by HindiKul Expert

यह आर्टिकल हिंदीकुल एक्सपर्ट टीम के द्वारा पूरी रिसर्च और अधिकृत रेफरेन्स के सहायता से लिखा गया है। हम पूरी कोशिश करते हैं कि लेख में शामिल प्रत्येक जानकारी की सटीकता और व्यापकता उच्च गुणवत्ता की हो। फिर भी इस लेख से संबंधित आपके मन में कोई सवाल या सुझाव हैं तो कृपया हमें नीचे कॉमेंट कर या कांटेक्ट पेज के माध्यम से सूचित जरूर करें.
साथ ही हिंदीकुल से जुड़े रहने के लिए हमें सोशल मीडिया पर जरूर फॉलो करें 👇

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.