घर में कौन सा कछुआ पालना चाहिए और इसके लाभ

क्या आप अपने घर में कछुआ पालना चाहते हैं और जानना चाहते हैं घर में कौन सा कछुआ पालना चाहिए? तो आज की इस पोस्ट में हम कौन सा कछुआ शुभ होता है और कौन सा कछुआ पालना चाहिए के बारे में पूरी बातें बतलाने वाले हैं.

आपकों बता दें, हिंदू धर्म में कछुआ भगवान विष्णु का साक्षात् प्रतीक है. हमारे सास्त्रो में आपकों साफ़ साफ़ इसके प्रमाण मिल जायेगें की पृथ्वी पर जब भी परेशानी आई है यही त्रिदेव ने अपने भेस को चेंज कर के और अलग अलग रूप में मनुष्य की रक्षा की है.

धार्मिक सास्त्र में यह स्पष्ट प्रमाण है कि समुद्र मंथन के समय पर भगवान विष्णु ने कछुआ के रूप धारण करके अपने कवच से मंर्द चांद पर्वत को अपने कवच पर स्थापित कर रखा था यानी पर्वत का सारा भार अपने ऊपर रखा था.

यह तो अस्पष्ट रुप से प्रमाण हो गया कि कछुआ जीवनदायिनी है और यह भगवान विष्णु का रूप है. अब मै आपको बताना चाहता हूं क्या घर में कछुआ वाकई रखना चाहिए. तो इसका जवाब आपके ऊपर निर्भर करता है.

बहुत से लोग अपने घर में कछुआ पालते हैं और कुछ लोग इसके मूर्ति का स्थापित करते हैं. लेकिन इसके बहुत सारे नियम और सिस्टम होते हैं.

कहते हैं कि यदि आप घर में कछुआ रखते हैं तो माता लक्ष्मी की कृपा हमेशा आप पर बनी रहती है. घर में जब भी कछुआ लाए तो उसके पानी पर खास ध्यान दे क्योंकि भगवान विष्णु को लाए है तो लक्ष्मी की कृपा तो ऐसे ही बनी रहती है.

यदि आप कछुआ पालने की सोच रहे हैं तो आपकों सबसे पहले कछुआ कितने प्रकार के होते है के बारे में जानकारी होनी चाहिए.

कछुआ कितने प्रकार का होता है?

कछुआ मुक्त दो प्रकार के होते हैं पहला वह जिसे आप अपने घर में पाल सकते हैं दूसरे वो कछुए जिन्हे आप पाल नहीं सकते हैं. लेकिन पूरी दुनिया में कछुओं की अनेक प्रजातियां पाई जाती है जिनके बारे में हमने नीचे जानकारी दी है.

  1. इजिप्शन कछुआ
  2. ग्रीक कछुआ
  3. मार्जिनल कछुआ
  4. रूसी कछुआ
  5. अंगोनोका कछुआ
  6. क्लेनमैन कछुआ
  7. हर्मन कछुआ
  8. विकिरणित कछुआ
  9. मकड़ी कछुआ
  10. अल्दाबराचेइल ग्रैंडिडिएरी
  11. पांकेक कछुआ
  12. गोपहर कछुआ
  13. इंडियन स्टार कछुआ
  14. रेगिस्तानी कछुआ
  15. लियोपार्ड कछुआ

घर में कौन सा कछुआ पालना चाहिए?

घर में कौन सा कछुआ पालना चाहिए और इसके लाभ

यदि आप कैरियर में तरीकि चाहते हैं तो आपकों काला कछुआ रखना चाहिए, वहीं चांदी का कछुआ व्यापार और व्यापार के लिए अच्छा होता है. क्रिस्टल कछुआ धन संबंधी समस्याओं को दूर रखता है और घर में शांति और समृद्धि बनाए रखने में मदद करता है.

घर में आपकों कछुआ का जोड़ा साथ में रखना चाहिए क्योंकि ऐसा माना जाता है कि परिवार में किसी भी प्रकार के विवाद से बचने के लिए कछुआ का जोड़ा साथ में रखने से प्रॉब्लम का समाधान मिल जाता है.

विभिन्न कछुओं के अलग-अलग उद्देश्य होते हैं जैसे कि मादा कछुआ जिसके खोल पर बच्चे होते हैं उसे परिवार और बच्चों का प्रतीक माना जाता है. उसी प्रकार कछुआ के अनेक प्रजातियां है और आपकों उन्ही कछुआ को अपने घर में रखना चाहिए जो आपके लिए सही हो.

अलग अलग कछुओं के अलग अलग लाभ है अब आपकों देखना है कौन सा कछुआ आपके घर और बाकी सभी चीजों के लिए लाभदायक होता है.

कौन सा कछुआ शुभ होता है?

कछुआ की कई प्रजातियों में से आपके लिए सही कौन सा रहेगा उसके बारे में किसी गुरु या पंडित से पूछे. साथ ही यदि अपने घर में कछुआ पालने के बारे में सोच रहे हैं तो वह भी बहुत अच्छा माना जाता है.

आप चाहें तो कछुआ का मूर्ति भी अपने घर में रख सकते हैं लेकिन इसे सही दिशा में रखें नहीं तो लाभ होने की वजह हानि होने लगेगा.

कछुए की मूर्ति घर में कहां रखें?

कछुआ को घर में खास दिशा में रखने के बहुत से लाभ हो सकते हैं इसलिए यह बहुत ख़ास बात होता है. अपने घर में कछुआ रखने से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि कौन सी दिशा आपके घर और वृद्धि के लिए सही होगा.

क्योंकि ग़लत दिशा में कछुआ रखने से आपकों लाभ की बजाय हानि का सामना करना पड़ सकता है. वास्तु के अनुसार घर की उत्तर दिशा में कछुआ का मूर्ति रखना शुभ माना गया है क्योंकि उत्तर दिशा धन कुबेर की दिशा होती है.

घर में कछुआ पालने के लाभ

घर में कछुआ पालने के बहुत से लाभ होते हैं. ऐसा माना जाता है कि कछुआ जहां होता है, वहां लक्ष्मी का आगमन होता है क्योंकि कछुआ भगवान विष्णु का ही एक रूप होता है.

यहां हम आपको बता रहे हैं घर में कछुआ पालने के लाभ :

  1. ऐसा माना गया है कि कछुआ पालने से धन का लाभ होता है. जिन्हे धन संबंधी कोई समस्या है वे लोग अपने घर में कछुआ पाल सकते हैं.
  2. यह स्टूडेंट्स के लिए भी बहुत शुभ माना जाता है. ऐसा कहा जाता है कि कि कछुआ रखने से नौकरी और परीक्षा में सक्सेस मिलती है.
  3. घर में कछुआ रखने से कई बीमारियां भी दूर होती है.
  4. आपके घर के परिवार के सभी सदस्यों की आयु लम्बी होती है.
  5. अपने बिज़नेस या दुकान की ऑफिस में चांदी का कछुआ रखना शुभ माना जाता है.
  6. कछुआ शांति का प्रतीक माना जाता है इसलिए घर में इसे रखने से आपके परिवार के सदस्यों के बीच सुख-शांन्ति बनी रहती है.

कछुआ कितने वर्ष तक जीता है?

कछुआ पृथ्वी पर सबसे अधिक दिनों तक जीवित रहने वाला जीव माना जाता है जिनमें रेंगनेवाले यानी सरीसृप जीवों की श्रेणी में आने वाले इस जीव की उम्र 150 वर्ष होती है.

सबसे अधिक वर्षो तक जीवित रहने वाला कछुआ?

सबसे अधिक वर्षो तक जीवित रहने वाला कछुआ हनाको कछुआ था, जो लगभग 226 वर्षो तक जीवित रहा था.

पालतू कछुए क्या खाते हो?

कछुआ शाकाहारी और सर्वाहारी दोनों होते हैं. कहने का मतलब कछुआ फल,सब्जियाँ खाने के साथ साथ कीड़े, वैक्सवर्म, घोंघे, छोटी मछली, आदि चीजें भी खाते हैं.

कछुआ बिना खाए कितने दिन जिंदा रह सकता है?

कछुआ बिना खाए हुए भी कई दिन तक जीवित रह सकता है.

कितने नाखून का कछुआ शुभ माना जाता है?

आपने कई प्रकार के कछुओं के बारे में सुना होगा जिनमें कोई 18 नाखून का कछुआ होता है तो कोई 20-21 नाखून का कछुआ, कोई 12 नाखून का. लोग 20 नाखून की कीमत अधिक लगाते हैं क्योंकि यह कुछ अधिक लाभ प्रदान करता है.

निष्कर्ष,

आज की इस लेख में हमने घर में कौन सा कछुआ पालना चाहिए और उसके लाभ के बारे में जाना. साथ ही हमने बात की कछुआ कितने प्रकार का होता है, कौन सा कछुआ शुभ होता है,कहां रखें घर में कछुए की मूर्ति, कछुआ पालने के लाभ, आदि सवालों की जवाब.

हम उम्मीद करते हैं हमारी द्वारा घर में कौन सा कछुआ पालना चाहिए और इसके लाभ के ऊपर यह पोस्ट आपको कुछ नई जानकारी देने में सक्षम होगी.

यदि यह पोस्ट आपको अच्छी लगीं है तो कृपया इसे अपने दोस्तों के साथ अपने सोशल नेटवर्किंग साइट पर शेयर जरूर करें. साथ ही इस लेख से संबंधित कोई सवाल या सुझाव है तो आप नीचे कमेंट कर हमें सूचित कर सकते हैं.

इसी तरह हमें सपोर्ट और हमारी लेख को रेग्युलर पढ़ने के लिए आपका बहुत धन्यवाद

इसे भी पढ़ें :

 

लेख में दी गई जानकारी से आप संतुष्ट हैं?

348 Points
Upvote Downvote

हिंदीकुल द्वारा लिखित

यह आर्टिकल हिंदीकुल एक्सपर्ट टीम के द्वारा पूरी रिसर्च और अधिकृत रेफरेन्स के सहायता से लिखा गया है। हम पूरी कोशिश करते हैं कि लेख में शामिल प्रत्येक जानकारी की सटीकता और व्यापकता उच्च गुणवत्ता की हो। फिर भी इस लेख से संबंधित आपके मन में कोई सवाल या सुझाव हैं तो कृपया हमें नीचे कॉमेंट कर या कांटेक्ट पेज के माध्यम से सूचित जरूर करें.
साथ ही हिंदीकुल से जुड़े रहने के लिए हमें सोशल मीडिया पर फॉलो जरूर करें 👇

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.