इंटरनेट का जनक कौन है?

इंटरनेट के पिता किसे कहा जाता है?, Internet Ka Janak Kaun Hai

क्या आपकों पता है इंटरनेट का जनक कौन है (Internet Ka Janak) यानी इंटरनेट का जनक किसे माना जाता है? पता नहीं, कोई बात नहीं तोइस लेख को पूरा जरूर पढ़े.

हम रोज़ाना इंटरनेट का उपयोग करते हैं लेकिन यदि सवाल पूछा जाए इंटरनेट के जनक किसे कहा जाता है? तो बहुत से लोग सोच में पड़ जाते हैं.

कई लोगों के इसके बारे में जानकारी नहीं होती है लेकिन यदि आप टेक्नोलॉजी और इंटरनेट के नई नई चीज़ों को जानने में अधिक उत्सुक रहते हैं तो आपकों इंटरनेट के पिता किसे कहा जाता है? के बारे में जरूर जानना चाहिए.

तो चलिए अब बिना किसी देरी के जानते हैं इंटरनेट के जनक से संबंधित महत्वपूर्ण बातें और उनके नाम क्या है?

इंटरनेट का जनक कौन है? (Internet Ka Janak)

इंटरनेट का जनक कौन है

विंट सेर्फ़ को इंटरनेट का जनक कहा जाता है. वह एक अमेरिकी इंटरनेट अग्रणी है जो इंटरनेट और टीसीपी/आईपी प्रोटोकॉल के निर्माण के सह-डिजाइनर हैं.

वह उन कंप्यूटर वैज्ञानिकों में से एक है जिन्हें इंटरनेट में उनके योगदान को अत्यधिक मान्यता और प्रशंसा मिली है और पुरस्कारों और मानद उपाधियों से सम्मानित किया गया.

विंट सेर्फ़ के मानद उपाधियाँ और पुरस्कार में ट्यूरिंग पुरस्कार, नेशनल मेडल ऑफ़ टेक्नोलॉजी, प्रेसिडेंशियल मेडल ऑफ़ फ्रीडम, मार्कोनी पुरस्कार और नेशनल एकेडमी ऑफ़ इंजीनियरिंग में सदस्यताएँ शामिल हैं.

Cerf और Kahn दोनों मिलकर टीसीपी/आईपी प्रोटोकॉल सूट का सह-विकास किया, जो आगे चलकर आधुनिक इंटरनेट की नींव बन गया.

क्योंकि विंट सेर्फ़ के द्वारा बनाई गई चीज़े बाद में इंटरनेट को जन्म दिया इसलिए उन्हें ‘इंटरनेट का जनक’ या ‘इंटरनेट का पिता’ माना जाता है.

विंट सेर्फ़ (इंटरनेट का जनक)

नाम विंट सेर्फ़
जन्म 23 जून 1943 , न्यू हेवेन, USA
माता-पिताविंटन थ्रुस्टन सर्फ़, मुरियल सर्फ़
पत्नीसिग्रिड सर्फ़ (विवा. 1966)
बच्चेडेविड सर्फ़, बेनेट सर्फ़
शिक्षाकैलिफोर्निया विश्वविद्यालय (1972)
इनाम/पुरस्कारट्यूरिंग पुरस्कार, नेशनल मेडल ऑफ टेक्नोलॉजी एंड इनोवेशन, आदि
प्रसिद्धि इंटरनेट का जनक/पिता

इंटरनेट का जनक किसे माना जाता है?

विंट सेर्फ़ को इंटरनेट का जनक माना जाता है. वह एक अमेरिकी प्रसिद्ध कंप्यूटर वैज्ञानिक थे जो टीसीपी/आईपी प्रोटोकॉल सूट का सह-विकास किया.

भारत में इंटरनेट क्रांति के जनक कौन है?

ब्रिजयेंद्र कुमार सिंगल को भारत में इंटरनेट क्रांति (Internet Revolution) का जनक माना जाता है. आज जो हम इंटरनेट इस्तेमाल करते हैं उसकी शुरूवात और उसे विकसित करने में उनका अहम योगदान रहा है.

निष्कर्ष,

इस लेख में आपकों इंटरनेट का जनक कौन है और उनसे संबंधित बातों के बारे में जानकारी दी गई. यदि आप नहीं जानते थे इंटरनेट का पिता किसे कहा जाता है (Father of Internet in Hindi) तो अब आप जान जाए होंगे.

हम उम्मीद करते हैं आपकों इसे पढ़ कर अच्छा लगा होगा और इंटरनेट के जनक से संबंधित सभी बातें समझ में आ गई होगी.

यदि इस लेख से आपकों कुछ जानने और सीखने को मिला है तो कृपया इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें.

इसे भी पढ़ें :

क्या आपको ये आर्टिकल पसंद आया ?

333 Points
Upvote

हिंदीकुल द्वारा लिखित

हिंदीकुल (Hindikul) एक प्रमुख शैक्षिक, सूचनात्मक और सलाह वेबसाइट है जो अन्य साइटों की तुलना में विश्वसनीय और सटीक लेख पाठकों तक पहुंचाती हैं.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *