मोबाइल आइडेंटिफिकेशन नंबर क्या है?

क्या आप जानते है मोबाइल आइडेंटिफिकेशन नंबर क्या है (What is Mobile Identification Number in Hindi) और इसे कैसे पता करें. यदि आप कोई भी मोबाइल या स्मार्टफ़ोन का इस्तेमाल करते हैं तो आपकों इससे संबंधित बातों के बारे में जानकारी होनी चाहिए क्योंकि यह मुख्यतः मोबाइल फोन में ही इस्तेमाल किया जाता है.

यह दुनिया बहुत बड़ी है और वैसे में अनेकों मोबाइल फोन एक साथ लोगों के द्वारा इस्तेमाल किया जाता है इसलिए यदि किसी खास लोकेशन के वेक्ति से बात करनी है तो आपकों इसका उपयोग करना पड़ता है.

मोबाइल आइडेंटिफिकेशन नंबर होने से बहुत सी चीजें आसान हो जाती है और अपने मोबाइल की एक पहचान मिल जाने से अनेकों काम जल्दी और बिना किसी रुकावट से होनी लगती है. इससे सभी लोगों को आप से कांटेक्ट करने में आसानी होती है और अलग पहचान मिल जाने से कोई भी इंसान इसे इस्तेमाल कर सही और सटीक लोकेशन के इंसान को कांटेक्ट करता है.

जिनके पास भी मोबाइल फोन है तो उनमें इस्तेमाल होने वाले सभी लोगों का मोबाइल आइडेंटिफिकेशन नंबर एक दूसरे के समान न हो उसके लिए सभी को यूनिक Mobile Identification Number दिया जाता है.

चलिए अब जानते हैं यह Mobile Identification Number (MIN) क्या होता है और इसे कैसे पता करें और जरूर आने पर इसे आप कैसे बदल सकते हैं ?

मोबाइल आइडेंटिफिकेशन नंबर क्या है | What is Mobile Identification Number (MIN) in Hindi

मोबाइल आइडेंटिफिकेशन नंबर

Mobile Identification Number मुख्यतः एक 10 डिजिट का यूनिक नंबर होता है जो एक wireless carrier के रूप में हमारे मोबाइल फ़ोन में काम करता है. 

इसे शॉर्ट फ़ॉर्म में MIN कहा जाता है और कई बार mobile subscription Identification number (MSIN) के नाम से भी जाना जाता है जो कि इंटरनेशनल मोबाइल सब्सक्राइबर आइडेंटिटी (IMSI) का लास्ट पार्ट होता है.

मोबाइल आइडेंटिफिकेशन नंबर यानी MIN एक ऐसी संख्या है जो सेल्युलर और PCS तकनीकों (जैसे कि EIA / TIA-553 एनालॉग, IS-136 TDMA, IS-95 या IS-2000 CDMA) के लिए TIA मानकों के तहत काम करने वाले एक मोबाइल फोन की विशिष्ट पहचान करता है.

Mobile Identification Number का मतलब और उपयोग

मोबाइल आइडेंटिफिकेशन नंबर  (MIN) को हिंदी में मोबाइल पहचान संख्या बोलते हैं जो की एक संख्या है और 10-अंकीय निर्देशिका टेलीफोन नंबर से ली गई है जिसे एक मोबाइल स्टेशन को सौंपा गया है.

10 अंक के मोबाइल नंबर निकालाने के नियम IS-95 Standard से लिया जाता है जिसमें MIN1, MIN का पहला या कम से कम महत्वपूर्ण 24 बाइनरी अंक होता है और MIN2 10 सबसे महत्वपूर्ण बाइनरी अंकों वाले MIN का दूसरा भाग होता है.

हम आपकों बता दें यहां पर MIN का इस्तेमाल मोबाइल स्टेशन को पहचानने के लिए किया जाता है और साथ ही authentication process के दौरान अन्य डिजिटल इनपुट के साथ MIN1 और ESN का उपयोग किया जाता है.

इसके अलावा Analog Cellular के मामले में, कॉल को रूट करने के लिए MIN का उपयोग किया जाता है और अधिकांश दूसरी पीढ़ी की प्रणालियों (second generation systems) में, सुरक्षा एहतियात के रूप में कॉलिंग को रूट करते समय हैंडसेट को अस्थायी नंबर दिए जाते हैं.

मोबाइल आइडेंटिफिकेशन नंबर कैसे काम करती है?

जैसे कि आपकों पता है मोबाइल आइडेंटिफिकेशन नंबर (MIN) एक 10 डिजिट का यूनिक नंबर होता है जिसे मोबाइल स्टेशन को दिया जाता है ताकि किसी खास लोकेशन के वेक्ति से वायरलेस तरीके से बात किया जा सके और अपनी बात एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुंचाया जा सके.

यह मोबाइल नंबर की डिजिट IS-95 स्टैंडर्ड के तहद लिया जाता है और जब भी कोई इंसान इसे अपने मोबाइल में डायल कर अन्य मोबाइल उपभोक्ता को कांटेक्ट करता है तो इसके कारणवश ही सही और सटीक लोकेशन के इंसान के पास कॉल जाता है और उसके बाद आप अपनी बात पहुंचाने में सक्षम हो पाते हैं.

MIN और MSIN में क्या अंतर है?

MIN और MSIN में कुछ अंतर नहीं है क्योंकि इन दोनों का मतलब एक ही है. यहां MIN का मतलब Mobile Identification Number है और MSIN का मतलब Mobile Subscriber Identification Number होता है.

मोबाइल आइडेंटिफिकेशन नंबर कैसे पता करें?

जब भी हम नया मोबाइल के लिए नया सिम कार्ड लेते हैं तो उसके डिब्बे पर लिखा होता है मोबाइल आइडेंटिफिकेशन नंबर (MIN) जो कि कुल 10 डिजिट का यूनिक नंबर होता है जो सिर्फ आपके नाम और लोकेशन के इस्तेमाल के लिए होता है.

हमारे कहने का मतलब यह है कि उस नंबर को अन्य कोई नहीं ले सकता है क्योंकि इसे पहले से ही कंट्री कोड और मोबाइल स्टेशन की तरह बनाया जाता है.

इसे भी पढ़े : Paytm कहा कि कंपनी हैं? 

जब आप किसी दुकानदार की ओर से दिए गए SIM की खरीदी करते हैं तो उसे सही तरीके से चलाने के लिए आपकों अपने sim card के कंपनी ओनर से एक्टिवेट करवाना पड़ता है उसके बाद ही उसे आप अपने मोबाइल फ़ोन के इस्तेमाल के लिए उपयोग कर सकते हैं.

इस लेख में,

इस लेख में आपकों मोबाइल आइडेंटिफिकेशन नंबर (Mobile Identification Number) क्या हैं और इसे कैसे पता करें और साथ ही इससे संबंधित अन्य जरूरी बातों के बारे में जानकारी दी है.

हम उम्मीद करते हैं कि हमारी यह लेख Mobile Identification Number (MIN) पर आपकों पसंद आई होगी और अगर अच्छा लगा है तो कृपया इसे अपने दोस्तों, रिश्तेदारों, परिवारजनों या अन्‍य लोगों के साथ सोशल नेटवर्किंग साइट जैसे कि WhatsApp, Facebook, Twitter आदि पर शेयर जरूर करें.

इस लेख से संबंधित यदि आपके मन में कोई सवाल है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स के माध्यम से हमें पूछ सकते हैं. हमारी हमेशा से कोशिश रहती हैं कि आपके पूछे गए सवाल को जल्द से जल्द reply कर दिया जाए.

What do you think?

342 Points
Upvote Downvote

Written by Hindikul Editorial

हिंदीकुल भारत का #1 सबसे विश्वसनीय हिंदी ब्लॉग हैं जहां आपकों विभिन्न विषयों पर विश्वसनीय रिसर्च तथा एक्सपर्ट्स का नॉलेज एक साथ मिलते हैं.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *